ग्वालियर : रेत के अवैध उत्खनन पर हो कठोर कार्रवाई

अवैध रेत उत्खनन एवं परिवहन की रोकथाम के लिये संभागीय आयुक्त एवं आईजी ने ली बैठक

ग्वालियर। ग्वालियर-चंबल संभाग में रेत के अवैध उत्खनन को सख्ती के साथ रोका जाए। बॉर्डर
पर स्थापित किए गए नाकों पर वीडियोग्राफी की व्यवस्था भी की जाए। रेत का वैध रूप से कारोबार करने वाले
ठेकेदारों को किसी भी प्रकार की परेशानी न हो, यह भी सुनिश्चित किया जाए। संभागीय आयुक्त श्री आशीष
सक्सेना एवं आईजी ग्वालियर रेंज श्री अविनाश शर्मा ने अवैध रेत परिवहन की समीक्षा में यह निर्देश दिए हैं।
ग्वालियर-चंबल संभाग में अवैध रेत परिवहन, उत्खनन एवं भण्डारण की समीक्षा संभागीय आयुक्त श्री
आशीष सक्सेना ने गूगल मीट के माध्यम से की। समीक्षा के दौरान चंबल संभाग के आईजी श्री मनोज शर्मा, कलेक्टर
ग्वालियर श्री कौशलेन्द्र विक्रम सिंह, पुलिस अधीक्षक श्री अमित सांघी सहित ग्वालियर-चंबल संभाग के सभी जिलों
के कलेक्टर, पुलिस अधीक्षक एवं जिला खनिज अधिकारी गूगल मीट में शामिल हुए।
संभागीय आयुक्त श्री आशीष सक्सेना ने कहा है कि रेत परिवहन का जिन लोगों को ठेका मिला है, उन्हें
किसी प्रकार की परेशानी न हो, यह सुनिश्चित किया जाना चाहिए। इसके साथ ही रेत का अवैध उत्खनन, परिवहन
एवं भण्डारण न हो इसकी जवाबदारी भी जिला प्रशासन को लेनी होगी। उन्होंने कहा कि सभी जिलों के बॉर्डर पर
जो नाके स्थापित किए गए हैं उन पर कैमरे लगाए जाएँ, ताकि नाकों पर की जा रही कार्रवाई की भी मॉनीटरिंग
की जा सके।
संभागीय आयुक्त श्री सक्सेना ने समीक्षा के दौरान यह भी निर्देश दिए हैं कि किसी भी जिले में नाकों पर
अनावश्यक रूप से रेत के वाहनों को न रोका जाए। जिसके पास रॉयल्टी हो उसे तत्काल नाके से निकलने की
व्यवस्थायें भी सुनिश्चित की जाएँ। ग्वालियर-चंबल संभाग में जो शासकीय निर्माण कार्य किए जा रहे हैं उनमें अवैध
रेत का उपयोग न हो, यह विभागीय अधिकारी सुनिश्चित करें। किसी भी स्थान पर बिना रॉयल्टी जमा कराए आने
वाली रेत को स्वीकार न किया जाए। बैठक में यह भी निर्देशित किया गया कि खनिज विभाग द्वारा जिन लोगों को
रेत उत्खनन एवं परिवहन का ऑर्डर दिया गया है उन ठेकेदारों को किसी प्रकार की समस्या हो तो उनका निराकरण
भी सुनिश्चित किया जाए।
आईजी ग्वालियर श्री अविनाश शर्मा ने बैठक में कहा है कि वैध रूप से रेत लाने वाले वाहन भी क्षमता से
अधिक रेत लेकर न चलें, यह सुनिश्चित किया जाए। ऐसे वाहनों पर प्रभावी कार्रवाई भी की जाए जो क्षमता से
अधिक रेत लेकर सड़क पर परिवहन कर रहे हैं। ऐसे ट्रेक्टर ट्रॉलियों पर जो अतिरिक्त पट्टे लगाए गए हैं उनको हटाने
का अभियान भी चलाया जाए। इसके साथ ही चंबल की रेत पूरी तरह से प्रतिबंधित है। इसका परिवहन किसी भी
स्थिति में न हो, यह सुनिश्चित किया जाए।
बैठक में ग्वालियर-चंबल संभाग के सभी जिलो के कलेक्टर एवं पुलिस अधीक्षक ने अपने-अपने जिले में
अवैध रेत उत्खनन एवं परिवहन के विरूद्ध की जा रही कार्रवाई की विस्तार से जानकारी दी। इसके साथ ही जिले
में अवैध रेत उत्खनन के विरूद्ध वाहन जब्ती एवं अन्य दण्डात्मक कार्रवाई के संबंध में भी बताया। जिला खनिज
अधिकारियों ने भी अपने-अपने जिले की वस्तुस्थिति से अवगत कराया।

 154 total views,  2 views today

Share and Enjoy !

0Shares
0

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

0Shares
0