MP छतरपुर का मामला : ढोंगी बाबा ने झाड़-फूंक के लिए उतरवाए महिला के कपड़े, दुष्कर्म का आरोप।

छतरपुर का मामला : संतान की चाह में गई थी महिला

छतरपुर। महिला का आरोप है कि ब्रह्मेश्वर धाम के पुजारी लवलेश तिवारी ने उसके साथ गलत काम किया। महिला ने पुलिस को बताया कि उसे शादी के कई साल बाद भी संतान नहीं हो रही थी। उसके पति उसे संतान की चाह में ब्रह्मेश्वर धाम के पुजारी के पास ले गए थे। जहा एक पुजारी ने महिला के साथ रेप कर दिया। खजुराहो पुलिस ने उसके खिलाफ केस दर्ज कर लिया है।

महिला ने बताया कि पुजारी ने सभी को कमरे (धाम) से बाहर निकाल दिया और उसे अंदर बुलाया। उसके पति को झाड़-फूंक का सामान लाने के लिए भेज दिया था। फिर झाड़-फूंक के लिए महिला से कपड़े निकालने के लिए कहा। इसके बाद दुष्कर्म करने लगा।

चमत्कार दिखाकर पुजारी चर्चा में आया :-

टीआई याकूब खान के अनुसार खजुराहो के लखेरी गांव में ब्रह्मेश्वर धाम का पुजारी पिछले कुछ महीने से अपने चमत्कारों के कारण सुर्खियों में था। वह धाम पर पहुंचने वाले हर पीड़ित को चमत्कार दिखाता था। यही कारण है कि लोग उसकी ओर आकर्षित होने लगे। पुलिस ने मामले में देर रात FIR दर्ज कर ली है। पुलिस महिला का मेडिकल करा रही है। डीएसपी शशांक जैन का कहना है कि शिकायत की जांच की जा रही है। महिला के मेडिकल के बाद आगे कार्रवाई।

पति बोला पत्नी अकसर रहती थी बिमार :-

महिला के पति का कहना है कि मेरी पत्नी बीमार रहती थी। मैं बाबा के पास धाम पर गया था तो उन्होंने झाड़-फूंक का कुछ सामान लाने के लिए कहा । मैं सामान लेकर मंगलवार को वहां गया था। वहां भीड़ ज्यादा थी तो उनसे मिल नहीं सका । मैं बुधवार को पत्नी के साथ पहुंचा, तब बाबा ने मुझे कुछ और सामान लेने के लिए बाहर भेज दिया। इस दौरान उसने गलत काम किया।

महिला ने गुरुवार को थाने पहुंचकर बाबा के खिलाफ शिकायत की। एसडीओपी मनमोहन बघेल और खजुराहो टीआई याकूब खान ने लवलेश तिवारी से 6 घंटे तक थाने में पूछताछ की। इस दौरान दोनों पक्षों के कई लोग थाने के बाहर जमा होकर जमकर हंगामा करने लगे।

बाबा के साथियों ने बताई दूसरी कहानी :-

बाबा के साथ रहने वाले लोगों ने बताया कि महिला दोपहर 3 बजे आई थी। बाबा ने उसे 4 बजे बुलाया। धूप के साथ जो और सामान लगना था उसने सामने लगाया। फिर वह चली गई। इस दौरान करीब 250 लोग मौजूद थे। जैसा महिला बता रही है, वैसा कुछ भी नहीं हुआ। महिला का कहना है कि घटना रात 10 बजे की है। जबकि, रात में 10 बजे वहां कोई भी नहीं रहता। हम लोग 24 घंटे महाराज के साथ रहते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.