ग्वालियर : थाना मुरार पुलिस ने एक नाबालिक बालक तथा बालिका को किया दस्तयाब ।

ग्वालियर। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ग्वालियर श्री अमित सांघी,भापुसे के निर्देश पर ग्वालियर पुलिस द्वारा गुम बालक-बालिकाओं की दस्तायाबी के लिये प्रभावी कार्यवाही की जा रही है। इस कार्यवाही के दौरान अति. पुलिस अधीक्षक शहर-पूर्व/अपराध श्री राजेश डण्डौतिया द्वारा अपने अधीनस्थ थाना प्रभारियों को थाना क्षेत्र से गुम हुए बालक-बालिकाओं की दस्तायाबी के लिये मुखबिर तंत्र विकसित करने के लिये निर्देशित किया गया।

वरिष्ठ अधिकारियों के निर्देश के परिपालन व नगर पुलिस अधीक्षक मुरार श्री रत्नेश सिंह तोमर के मार्गदर्शन में कार्य करते हुए थाना प्रभारी मुरार द्वारा मुखबिर तंत्र सक्रिय किये गये। दिनांक 20.04.2022 को थाना प्रभारी मुरार निरी. शैलेन्द्र भार्गव को दौराने विवेचना तकनीकि सहायता से ज्ञात हुआ कि दिनांक 16.04.2022 को थाना मुरार क्षेत्रांर्तगत परसादीपुरा निवासी फरियादी के 11 वर्षीय पुत्र को ग्वालियर रेल्वे स्टेशन पर देखा गया है। उक्त सूचना पर से थाना प्रभारी मय पुलिस बल के मौके पर पहुंच कर वहां लगे सीसीटीव्ही कैमरों की छानबीन की तो उक्त बालक स्टेशन से मुरार की ओर जाता दिखा। बालक की दस्तयाबी हेतु सक्रिय किये गये मुखबिरों से सूचना प्राप्त हुई कि उक्त लड़का ग्राम खुरैरी मे मौजूद है उक्त सूचना पर से थाना मुरार पुलिस द्वारा उक्त बालक को मुखबिर के बताये स्थान से दस्तायाब कर उसके माता पिता के सुपूर्द किया।

बालिका को बहला फुसलाकर हैदराबाद बुलाने वाले तीन लोंगो को बनाया आरोपी

एक अन्य घटनाक्रम में दिनांक 20.04.2022 को फरियादिया रीना भदौरिया पत्नि देवेन्द्र भदौरिया द्वारा थाना मुरार मे रिपोर्ट की थी कि किसी अज्ञात बदमाश द्वारा उनकी नाबालिक लड़की को बहला फुसलाकर अपने साथ ले जाया गया है। फरियादिया की रिपोर्ट पर से थाना मुरार पुलिस द्वारा अज्ञात बदमाश के विरूद्ध प्रकरण पंजीबद्ध कर मुखबिर मामूर करते हुए तकनीकि सहायता से लड़की की तलाश की जा रही थी। दिनांक 21.04.2022 को थाना प्रभारी मुरार को जरिये मुखबिर सूचना प्राप्त हुई कि थाना मुरार क्षेत्रांर्तगत सिंहपुर रोड़ निवासी 17 वर्षीय बालिका को ठाटीपुर स्थित राधिका गर्ल्स होस्टल के पास देखा गया है।

उक्त सूचना पर से थाना प्रभारी द्वारा मय थाना बल के मुखबिर के बताया स्थान से उक्त नाबालिग बालिका को दस्तयाब कर लिया गया। उक्त नाबालिक लड़की से पुलिस टीम द्वारा पूछताछ करने पर उसने बताया कि हैदराबाद निवासी एक लड़के द्वारा अपने पिता व मामा के साथ मिलकर उसे डरा धमका कर हैदराबाद बुलाया जा रहा था। इसी वजय से वह घर से भाग कर हैदराबाद जा रही थी। लड़के द्वारा ही मुझे अपने एक साथी के मदद से ठाटीपुर थाना क्षेत्र स्थित राधिका गर्ल्स होस्टल में रूकवाया गया था। थाना मुरार पुलिस द्वारा उक्त प्रकरण में लड़के, लड़के के पिता व मामा को आरोपी बनाया जाकर उनकी गिरफ्तारी के प्रयास किये जा रहे है।

सराहनीय भूमिका :- उक्त दस्तयाबी में थाना प्रभारी मुरार निरी0 शैलेन्द्र भार्गव, उनि अतर सिंह, प्रआर0 राजवीर, आर0 राजू तथा दिलीप की सराहनीय भूमिका रही।

Leave a Reply

Your email address will not be published.