CG Latest News : ED की Team चिप्स के ऑफिस पहुंची, सुबह IAS रानू साहू के मायके में ED की छापेमार कार्यवाही..

Spread the love

रायपुर । ED (प्रवर्तन निदेशालय) के 12 अधिकारियों की एक टीम का गठन कर सुबह 5 बजे पाण्डुका में गरियाबंद की जिला पंचायत सदस्य लक्ष्मी साहू और कांग्रेस नेता शैलेंद्र साहू का दरवाजा खटखटाया । पहले तो परिवारवालों ने ED की टीम को अंदर ही नहीं आने दिया, लेकिन कुछ देर बाद टीम घर के अंदर चली गई । उसके बाद ED की टीम वहां जांच कर रही थी ।जांच के दौरान मौके पर लक्ष्मी साहू IAS रानू साहू की मां और उनके चचेरे भाई शैलेंद्र साहू मौजूद थे ।

ED (प्रवर्तन निदेशालय) की टीम वहां दस्तावेजों को खंगाल रही थी, तभी मैनपुर में एक 12 एकड़ के तालाब के भी इस परिवार के नाम होने की जानकारी सामने आई थी, क्योंकि इसकी प्रारंभिक रजिस्ट्री में परिवार का नाम था। इस एंगल पर भी जांच की जा रही है। छापे की कार्रवाई के लंबा चलने की आशंका जताई जा रही है।

ED (प्रवर्तन निदेशालय) की एक बड़े सर्च ऑपरेशन के तौर पर 11 अक्टूबर की सुबह प्रदेश के 40 से अधिक ठिकानों पर छापेमारी की कार्यवाही थी । इसके केंद्र में कोयला ढुलाई से जुड़ा नेटवर्क और हवाला की कच्ची पर्चियों के जरिये नकद लेनदेन की जानकारी मिली थी । ED टीम ने रायपुर के अलावा कोरबा, रायगढ़, महासमुंद आदि जगहों पर ध्यान केंद्रित किया ।

IAS रानू साहू ने चिट्‌ठी लिखकर कहा था जांच में सहयाेग करुंगी :-

रायगढ़ IAS रानू साहू हैदराबाद से लौटने के बाद अपने सरकारी लेटर हेड पर ED (प्रवर्तन निदेशालय) के जांच अधिकारी को पत्र लिखकर कहा था कि, वे जांच में सहयोग करने को तैयार है । रानू साहू का कहना है की, 10 अक्टूबर से वे अवकाश पर थीं । उनका हैदराबाद के यशोदा अस्पताल में इलाज चल रहा था । वहां उनका एक माइनर ऑपरेशन भी हुआ । अब वे रायगढ़ में आ गई हैं । वे पूर्ण पारदर्शिता से प्रशासनिक कार्य करती हैं । उन्होंने आश्वस्त किया था कि ED (प्रवर्तन निदेशालय) की जांच में उनकी ओर से पूर्ण सहयोग दिया जाएगा ।

भिलाई में असिस्टेंट कमिश्नर ट्राइबल के घर भी दबिश :-

ED (प्रवर्तन निदेशालय) की एक बड़ी टीम ने खनिज विभाग के संचालक जेपी मौर्या, चिप्स के मुख्य कार्यपालन अधिकारी समीर विश्नोई, पूर्व विधायक अग्नि चंद्राकर सहित कोयला और परिवहन कारोबार से जुड़े तमाम व्यापारियों और चार्टर्ड अकाउंटेंट के यहां छापा मारा था। इसके बाद मनी लांड्रिंग और आय से अधिक संपत्ति मामले में समीर विश्नोई और 2 कोल कारोबारी लक्ष्मीकांत तिवारी व सुनील अग्रवाल को गिरफ्तार कर लिया गया था । तीनों अभी रिमांड पर हैं । भिलाई में ED (प्रवर्तन निदेशालय) की टीमे लगातार दबिश दे रही है जिससे रसूखदारों में खलबली मची हुई है ।

चिप्स के दफ्तर तक पहुंची ED की जांच :-

ED (प्रवर्तन निदेशालय) की टीम ने चिप्स के CEO समीर विश्नोई को पहले ही गिरफ्तार कर चुकी है । बताया जा रहा है कि विश्नोई से चार दिनों की पूछताछ के बाद जांच एजेंसी किसी महत्वपूर्ण दस्तावेज की तलाश में उनके कार्यालय आई है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *