अपहर्त के लडके से दो करोड रूपये की फिरोती की मांग करने वाले पांचों आरोपियों को थाना पुलिस नरवर सायबर सैल एवं एडी टीम ने किया गिरफ्तार।

Spread the love

शिवपुरी।दिनांक 20.12.2021 ग्राम चकरामपुर थाना नरवर के फरियादी ने थाना नरवर पर रिपोर्ट की थी कि जब बो और उसके रिस्ते के चाचा दिनांक 19.12.2021 को कठेगरा और चकरामपुर के बीच रात करीब 09.30 वजे अपने खेतो की रखवाली के लिये जा रहे थे तभी खेतो के पास ही दो व्यक्ति मोटर साईकिल से और तीन व्यक्ति ईको गाडी से आये और चाचा का अपहरण करके ले गये।

रिपोर्ट पर से थाना नरवर मे अज्ञात पांच आरोपियो के विरूध्द धारा 365 भादवि का प्रकरण पंजीवध्द किया गया। जिसमे फिरोती की मांग स्पष्ट होने पर धारा 364क,120बी भादवि एवं 11/13 एमपीडीपीके एक्ट का इजाफा किया गया। पुलिस ने सरगर्मी से तलास जारी की तो दिनांक 20.12.2021 को अपहरणकर्ता, पुलिस की सक्रियता देख कर अपहर्त को झिरन्या के जंगल मे बधी हालत मे छोड कर भाग गये। अपहृत मुक्त होकर सतनवाडा नरवर रोड पर आ गया और पुलिस नरवर की सुरक्षा मे पहुँच गया।

पुलिस अधीक्षक महोदय शिवपुरी श्री राजेश चंदेल द्वारा इस घटना को गंभीरता से लेते हुये आरोपीगणो की पतारसी अनिवार्य रूप से किये जाने के लिये अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शिवपुरी श्री प्रवीण भूरिया के मार्गदर्शन में और एसडीओपी करैरा श्री जी.डी शर्मा के निर्देशन में मनीष कुमार शर्मा टीआई नरवर के नेतृत्व में सायबर सैल शिवपुरी,एडी टीम शिवपुरी और पुलिस थाना नरवर की सयुक्त टीम बनायी गयी। इस टीम के द्वारा स्थानिय स्तर पर संदिग्धो को चिंहित किया गया तथा सायबर सैल द्वारा इन सभी संदिग्धो की जानकारी आदि प्राप्त की गयी, और घटना स्थल तथा मुक्त हुये स्थान की जानकारी ली गयी।

जिसके आधार पर ग्राम चकरामपुर के निकट ही के ग्राम काशीपुर के एक संदिग्ध से पूछताछ किये जाने पर उसने अपने अन्य पांच साथियो की सहायता से घटना को अंजाम देना स्वीकार किया। पूरा घटनाक्रम इस प्रकार है, कि काशीपुर के आरोपी ने अपहर्त के ग्राम चकरामपुर के ही एक व्यक्ति से संपर्क कर उसके साथ मिलकर अपहरण की योजना बनायी और इस घटना को अंजाम देने मे ग्राम कारोबाह के पूर्व आपराधिक रिकार्ड वाले एक व्यक्ति को,ग्राम दावरअली के ईको बाहन के मालिक एक व्यक्ति को, ग्राम बासगढ के एक व्यक्ति को तथा ग्राम ग्वालिया के एक व्यक्ति को शामिल कर दिनांक 19.12.2021 को ग्राम चकरामपुर के साथी की सूचना पर से अपहर्त का अपहरण कर लिया।

इसके वाद अपहरण कर्ताओ ने अपहर्त को झिरन्या जंगल मे पहाड पर ले जाकर रखा, और इसमे से काशीपुर और कारोवाह के दोनो आरोपी मोटर साईकिल से बिनैगा आश्रम के गेट पर पहुचे, और उन्होने वहां लगे चाय के ठेले वाले का मोबाईल चुरा लिया। और उस मोवाईल की सिम निकाल कर एक अन्य मोवाईल मे डाल कर अपहर्त के लडके से दो करोड रूपये की फिरोती की मांग की किन्तू इसी बीच पुलिस की सक्रियता के चलते जंगल मे अपहर्त की पहरेदारी कर रहे अन्य आरोपीगण भाग खडे हुये और अपहर्त मुक्त हो गया। इसका पता चलने पर उक्त दोनो आरोपीगणो ने दोनो मोवाईलो को मडीखेंडा डेम और सिंध नदी मे फैक दिया और अपने अपने घर चले गये।

उपरोक्त घटना को अंजाम देने बाले पांच आरोपियो को थाना पुलिस नरवर सायबर सैल एवं एडी टीम के द्वारा गिरफ्तार कर लिया गया है। उपरोक्त घटना के संवध मे आरोपीगणो ने वताया कि अपहर्त के लडके ने गांव मे अच्छा मकान बनवाया था। और उसके द्वारा मंहगी जमीने खरीदे जाने की चर्चा थी और यह भी चर्चा थी। कि अपहर्त को गडा हुआ धन मिल गया है, इसलिये उससे बडी फिरोती मिलने की उम्मीद मे अपरणकर्ताओ ने इस घटना को अंजाम दिया।

बारदात मे उपयोग की गयी मोटर साईकिल और ईको वाहन को भी जप्त कर लिया गया है ।

इस घटना का खुलासा करने और अपराधियो की गिरफ्तारी करने मे टीआई नरवर मनीष कुमार शर्मा चौकी प्रभारी मगरौनी उनि. मनीष जादौन,का.उनि. रामानंद पचौरी थाना नरवर , का.सउनि दिनेश यादव प्रआर.रामकुमार, प्रहलाद, नारायण, आर.राहुल, आर.अजय वाथम आर. अंकित तथा सउनि प्रवीण त्रिवेदी प्रआर. देवेन्द्र सैन आर. बिकाश सायवर सैल की प्रमुख भूमिका रही है

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *