ग्वालियर : कलेक्टर श्री कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने राजस्व अधिकारियों की बैठक में दिए निर्देश।

Spread the love

शहर के सभी वार्ड व हर ग्राम पंचायत में सुशासन शिविर लगाएँ – कलेक्टर

ग्वालियर – शहर के सभी वार्डों और हर ग्राम पंचायत में अगले हफ्ते से “सुशासन शिविर” लगाए जाएँ। इन शिविरों के माध्यम से नामांतरण व बटवारा प्रकरणों के निराकरण के साथ-साथ सरकार की सर्वोच्च प्राथमिकता वाली योजनाओं का लाभ स्थानीय निवासियों को दिलवाएँ। इस आशय के निर्देश कलेक्टर श्री कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने राजस्व अधिकारियों की बैठक में दिए। उन्होंने कहा कि शिविर आरंभ होने से पहले स्थानीय निवासियों के साथ मिलकर सफाई अभियान चलाएँ। इसके बाद शिविर लगाकर लोगों की समस्याओं का निराकरण करें।

शुक्रवार को यहाँ कलेक्ट्रेट के सभागार में आयोजित हुई बैठक में कलेक्टर श्री सिंह ने कहा कि प्रथम चरण के सुशासन शिविर के बाद उसी स्थान पर अगले सात दिन बाद फिर से शिविर लगाकर आवेदनों के निराकरण की सूची पढ़कर सुनाएँ। साथ ही योजनाओं के तहत हितलाभ वितरण भी सुनिश्चित करें। उन्होंने ग्रामीण अंचल के शिविरों के लिये अपर कलेक्टर श्री एच बी शर्मा और शहरी क्षेत्र के शिविरों के लिए अपर कलेक्टर श्री इच्छित गढ़पाले को शिविरों का एजेण्डा अर्थात शिविर में मुहैया कराई जाने वाली सेवाओं का फार्मेट तैयार करने की जवाबदेही सौंपी है। साथ ही सभी एसडीएम को निर्देश दिए कि हर शिविर के लिये राजस्व, ग्रामीण विकास, कृषि तथा अन्य विभागों के मैदानी शासकीय सेवकों की टीम नियुक्त करने के निर्देश भी दिए।

बैठक में अपर कलेक्टर श्री इच्छित गढ़पाले व श्री एच बी शर्मा सहित जिले के सभी अनुविभागीय राजस्व अधिकारी, तहसीलदार व नायब तहसीलदार मौजूद थे।

तहसीलदार अपने मुख्यालय पर रहें

कलेक्टर श्री कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने राजस्व अधिकारियों की बैठक में जोर देकर कहा कि सभी तहसीलदार व नायब तहसीलदार अपने मुख्यालय पर रहें, जिससे लोगों को अपने काम के लिये भटकना न पड़े। उन्होंने खासतौर पर भितरवार में पदस्थ तहसीलदारों एवं नायब तहसीलदारों को निर्देश दिए कि वे अपने मुख्यालय पर ही निवास करें। ग्वालियर से अप एण्ड डाउन करने की प्रवृत्ति कदापि बर्दाश्त नहीं की जायेगी।

विधिवत आदेश निकालकर करें दावे-आपत्तियों का निराकरण

ओला प्रभावित किसानों को राहत वितरण की समीक्षा के दौरान कलेक्टर श्री कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने निर्देश दिए कि हर ओला प्रभावित खेत का फोटो लें और उसका वीडियो भी बनाएँ। इसी तरह ग्राम सभा में सर्वे सूची के वाचन के फोटो व वीडियो बनाए जाएँ, जिससे किसी को कोई शिकायत न रहे। उन्होंने निर्देश दिए कि सर्वे सूची के संबंध में प्राप्त दावे-आपत्तियों का निराकरण पूरी पारदर्शिता व शासन के निर्देशों का पालन करते हुए विधिवत आदेश निकालकर किया जाए।

हर राजस्व प्रकरण आरसीएमएस में दर्ज हो

कलेक्टर श्री कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने हर राजस्व प्रकरण को आरसीएमएस (रेवून्यू केस मैनेजमेंट सिस्टम) में दर्ज कर निराकृत करने पर विशेष बल दिया। उन्होंने कहा कि लंबित नामांतरण व बटवारा प्रकरणों का निराकरण अभियान बतौर किया जाए। श्री सिंह ने सीएम हैल्पलाइन के प्रकरणों का भी अभियान बतौर निराकरण करने के निर्देश भी बैठक में दिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *