कुशीनगर हादसा : बरात देख रही 13 महिलाओं की कुएं में गिरने से मौत,मृतकों के परिजनों को 4 -4 लाख की आर्थिक सहायता।

Spread the love

बरात देख रही 13 महिलाओं की कुएं में गिरने से मौत,मृतकों के परिजनों को 4 -4 लाख की आर्थिक सहायता

सभी महिलाएं मैं पर ढके लोहे के जाल पर खड़ी थी

कुशीनगर। उत्तर प्रदेश के कुशीनगर के नौरंगिया टोला गांव में बुधवार रात हादसे में मृतकों की संख्या 13 हो गई है। जिला प्रशासन ने 44 लाख रुपए का आर्थिक सहायता देने की घोषणा करने के साथ घायलों को निशुल्क इलाज की व्यवस्था भी की है इसके साथ ही कुआं में एसडीआरएफ की टीमें अभी भी शवो की तलाश जुटी है।

मरने वाले 11 लोगों की उम्र 5 से 25 वर्ष :-

कुशीनगर के जिलाधिकारी एस राज लिंगम ने बताया कि कुशीनगर के नौरंगिया टोला गांव में बुधवार रात स्लैप से ढका पुराना कुआं पर हो रहे पूजा पाठ के दौरान वहां पर बच्चे और महिलाएं बैठे हुए थे। इस दौरान स्लैप नीचे चला गया और मालवा उनके ऊपर गिर गया। 13 लोगों की मौत हुई है और 3 लोगों की हालत गंभीर हैं। डॉ एसके वर्मा ने बताया कि 5 से 25 वर्ष के 11 लोग सहित दो महिलाओं की मौत हो गई है।

अन्य घायलों का इलाज चल रहा है।

ऐसे हुआ हादसा:-

नौरंगिया के स्कूल टोला निवासी परमेश्वर कुशवाहा के पुत्र का गुरुवार को विवाह था। विवाह की रस्म के क्रम में महिलाएं हल्दी का रस्म अदायगी के दौरान ग्राम में स्थित कुआं पर मटकोर करने गई थी। उनके साथ बच्चे भी गए थे। इसके बाद कुआ पर बने स्लैब पर खड़े होकर डांस देखने लगे। इस बीच स्लैब टूट कर कुएं में गिर पड़ा जिससे उस पर सवार बच्चे समेत महिलाएं कुएं में गिरकर दब गए। घटना की सूचना मिलते ही कोहराम मच गया।

राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री ने इस हादसे पर संवेदनाएं व्यक्त की :-

कुशीनगर हादसे में प्रत्येक मृतक के परिवार के लोगों को चार -चार लाख रुपये की आर्थिक सहायता दी जाएगी। और घायलों को 50-50 हजार की सहायता पीएम रिलीफ फंड से दी जाएगी। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के साथ ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, राज्यपाल आनंदीबेन पटेल, तथा मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने हादसे पर अपनी संवेदनाएं व्यक्त की है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *