Atiq Ahmed Murder case : हत्या से पहले अतीक अहमद ने सुप्रीम कोर्ट को लिखी थी चिट्ठी

Spread the love

Atiq Ahmed Murder case : भाई अशरफ ने किया था मारने वाले का जिक्र,अतीक अहमद और उसके भाई अशरफ की ओर से लिखी गई चिट्ठियों को लेकर जानकारी आई सामने

Atiq Ahmed Murder case । अतीक अहमद और उसके भाई अशरफ की हत्या के बाद दोनों भाइयों की ओर से लिखी गई चिट्ठि की चर्चा है ।  अशरफ अहमद ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) को एक चिट्ठी लिखी थी । अब यह बात भी सामने आई है कि अतीक अहमद ने भी मारे जाने से करीब दो हफ्ते पहले सुप्रीम कोर्ट (Suprime Court) को पत्र लिखा था ।अतीक अहमद की चिट्ठी का एक बंद लिफाफा सामने आया है ।

अतीक अहमद के वकील विजय मिश्रा ने मिडीया को बताया कि वह बरेली की जेल में जब अतीक के भाई अशरफ से मिले थे, उस दौरान अशरफ ने कहा था कि जैसे ही उसे जेल से निकाला जाएगा, उसकी हत्या कर दी जाएगी । अशरफ ने दावा किया था कि जो व्यक्ति उसकी हत्या कर सकता है, वो नाम उसे पता है ।

अतीक अहमद के वकील विजय मिश्रा ने बताया :-

जब विजय मिश्रा ने कहा कि उन्होंने उस व्यक्ति के बारे में अशरफ से पूछा था, इस पर अशरफ ने नाम नहीं बताया था । उसने कहा था कि वो नाम चिट्ठी में लिखा हुआ है, चिट्ठी बंद लिफाफे में हैं और उसे सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस, इलाहाबाद हाई कोर्ट (Chief Justice) के चीफ जस्टिस और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को भेजा जाएगा । विजय मिश्रा ने बताया कि वो चिट्ठी जा चुकी है, वो पहुंच चुकी होगी या पहुंच रही होगी। सूत्रों ने बताया कि अतीक और अशरफ के परिवार के करीबी लोगों के पास वो चिट्ठी रखी गई थी और वहीं से उसे भेजा गया था ।

पुलिस हिरासत के दौरान हुई थी दोनो हत्या :-

आपको बता दें कि शनिवार (15 अप्रैल) को रात करीब साढ़े दस बजे उत्तर प्रदेश के प्रयागराज में कॉल्विन अस्पताल के पास अतीक और अशरफ की तीन हमलावरों ने गोली मारकर हत्या कर दी थी।  पुलिस हिरासत में हुई दोनों भाइयों की हत्या के बाद पूरे महकमे में हड़कंप मच गया था । वारदात को उस वक्त अंजाम दिया गया था जब अतीक और अशरफ को मेडिकल जांच के लिए अस्पताल ले जाया जा रहा था और इसी दरमियान जब वे मीडिया से बात करने के लिए रुके थे ।

जांच के लिए टीम का गठन :-

अतीक और अशरफ दोनों भाइयों की हत्या के मामले की जांच के लिए उत्तर प्रदेश पुलिस ने तीन सदस्यीय विशेष जांच दल (SIT) का गठन कर लिया है । उत्तर प्रदेश के विशेष पुलिस महानिदेशक (कानून व्यवस्था) प्रशांत कुमार ने सोमवार (17 अप्रैल) को बताया कि प्रयागराज के पुलिस कमिश्नर रमित शर्मा के निर्देश पर एसआईटी का गठन किया गया है ।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!